Seemanchal News Live

Seemanchal News Live: Hindi News, Latest News in Hindi Today, हिन्दी समाचार, Today Hindi News Paper, Live News, Bollywood News, Latest South Movies

रविवार, 10 मई 2020

फंसे मजदूरों को बिहार सरकार राहत के नाम पर कोरी मदद: ललित । Seemanchal News Live

पटना: वंचित समाज पार्टी के चुनाव अभियान समिति के चेयरमैन ललित सिंह ने कहा कि देशभर में लगभग सात करोड़ मजदूर रोजगार की तलाश में अपना घर छोड़ दूसरे राज्य में गये। अचानक लागू किए गए लॉकडाउन से इन सभी मजदूरों का जीवन प्रभावित हुआ है। लगभग 50 दिनों से ये परेशानियों का सामना कर रहे हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री से सवाल किया है कि लॉकडाउन से पहले मजदूरों की समस्या पर विचार किया जाता तो इस समय भयावह स्थिती नहीं बनती। जिस तरह विदेशों में फंसे प्रवासी भारतीयों को सरकार लाने का सम्मुचित प्रबंध कर सकती है वैसे ही इन मजदूरों को अपने घर भेजने की मुकम्मल व्यवस्था करें। उन्होंने कहा कि संसद भवन की नई इमारत बनाने पर 20,000 करोड़  प्रधानमंत्री के लिए 7 स्टार विमान पर 8,776 करोड़ रुपये खर्च किए जा रहे हैं। इन्हें कुछ समय के लिए रोक कर, इन पैसों से गरीबों और मजदूरों की मदद करनी चाहिए। बाहर फंसे सभी प्रवासी मजदूरों को वापस लाने के लिए 28,000 ट्रेनों की जरूरत हैं।
उन्होंने कहा  कि दिल्ली में फंसे मजदूरों को बिहार सरकार द्वारा राहत के नाम पर कोरी मदद की जा रही है। राहत के नाम पर जारी राशि का घपला जारी है। कोरोना वायरस जांच के बारे में उन्होंने कहा कि बिहार में कोरोना संक्रमत मरीजों की संख्या 589 के करीब पहुंच गई है। लेकिन अभी भी जांच की रफ्तार बहुत धीमी है।
उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मांग करते हुए कहा कि कोरोना महामारी पर तभी लगाम लगाना संभव है जब तक वार्ड-पंचायत स्तर पर कोरोना की स्क्रीनिंग कर शॉटआउट नहीं किया जाता है। इसके लिए युद्ध स्तर पर सरकार को कोरोना की जांच करनी होगी। उन्होंने कहा कि धीमि गती के जांच होने से एक छोर पर संक्रमित प्रवासी मजदूर प्रवेश कर रहे है। उन्होंने आरोप लगाया कि लगभग 50 दिन लॉकडाउन के दौरान ही युद्ध स्तर पर कार्य कर जांच पूरी कर लेनी थी।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Please do not enter any spam link in the comment box.